ATM Full Form in Hindi

ATM Full Form in Hindi :- आज के समय में हर व्यक्ति के पास बैंक अकाउंट जरूर होता है जिससे की वह अपने कमाए हुए पैसे बचाकर बैंक अकाउंट में रख सके। और बैंक अकाउंट के साथ साथ डेबिट कार्ड (ATM Card) भी जरूर होता है जिससे की कहीं भी और कभी भी ATM से पैसे निकाल सके। आपके मन में ये सवाल जरूर आया होगा की आखिर ATM का पूरा नाम क्या होता है, ATM क्या है तथा ATM मशीन कैसे काम करता है।

इन सभी सवालों के जवाब से जुड़ा यह आर्टिकल होने वाला है। क्योंकि बहुत से लोगों को अभी ATM के Full Form, atm ka full form kya hai के बारे में नहीं पता होता। इस आर्टिकल में ATM से संबंधित सारी जानकारी विस्तार से जानने वाले हैं। आप इस लेख (ATM Full Form Kya Hai) को पूरा जरूर पढ़ें।

ATM क्या है? What is ATM

atm ka full form in hindi – ATM एक ऐसी मशीन है जिसका इस्तेमाल करके हम बार बार में ही लाखों रुपए निकाल सकते हैं इसके लिए किसी भी भी पैसे निकासी पेपर पर डिटेल्स भरने की आवश्यकता नहीं होती है, हमें बैंक में जाकर लाइन लगाने की जरूर नहीं पड़ती है। या मशीन हम सभी के लिए काफी मददगार होती है इससे हमारे समय की भी बचत होती है।

आज के समय में लगभग 85% लोग पैसे निकालने के लिए एटीएम का ही इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि यह बहुत ही सुविधाजनक होता है तथा इस ATM के द्वारा कहीं पर भी पैसे निकाल सकते हैं इसकी सुविधा हर जगह मिल जाती है जहां पर हम ATM का इस्तेमाल कर सकते हैं।

ATM का इस्तेमाल केवल और केवल पैसे निकले के लिए ही नहीं बल्कि डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड (ATM) का उपयोग ऑनलाइन शॉपिंग में भी कर सकते हैं। आप कोई भी ऑनलाइन खरीददारी करते हैं तो पेमेंट अपने डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड से भी कर सकते हैं।

ATM Full Form

ATM Full Form in English :- Automated Teller Machine

ATM Ka Full Form Hindi Me :- स्वचालित टेलर मशीन

ATM एक स्वचालित लेन देन करने की इलेक्ट्रिक मशीन है। इस ATM का आविष्कार जॉन शेफर्ड-बैरन (John Shepherd-Barron) नें सन् 1960 में किया था। एटीएम एक ऐसी इलेक्ट्रिक मशीन है जिससे बिना किसी भी बैंक एजेंट की हेल्प लिए अपने बैंक अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं।

यहाँ तक की पैसे निकालने के लिए आपको अपने प्रमुख ब्रांच में जाने की भी आवश्यकता नहीं है बस आपके आस पास जो भी ब्रांच हो वहाँ से उस ब्रांच के एटीएम से पैसे निकाल सकते हैं। लगभग सभी बैंक एटीएम जैसी फैसीलिटी देती हैं। किसी भी बैंक ATM में अपना डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल किया जा सकता है।

डेबिट कार्ड तथा क्रेडिट कार्ड में अंतर-

atm ka full form kya hota hai – ATM से पैसे निकालने के लिए मुख्यतः दो प्रकार के कार्ड होते हैं एक होता है डेबिट कार्ड और दूसरा होता है क्रेडिट कार्ड। ATM में दोनो में से किसी भी कार्ड का इस्तेमाल करके आसानी से पैसा निकाल सकते हैं। लेकिन इं दोनो कार्ड्स में से सबसे ज्यादा डेबिट कार्ड का उपयोग किया जाता है।

ऑनलाइन खरीददारी में अगर हम क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करके पैसों का भुगतान करते हैं तो हमें ज्यादा से ज्यादा छूट मिलती है लेकिन अगर वहीं पर अपने डेबिट कार्ड से भुगतान करेंगे तो काम छूट मिलेगी। इन दोनों में कोई ज्यादा विशेष अंतर नहीं है। दोनो का इस्तेमाल लगभग बराबर ही होता है।

ATM Ki Full Form से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण तथ्य

  • एटीएम से कभी भी और कहीं भी अपने बैंक अकाउंट से पैसे निकाल सकते हैं और जमा भी कर सकते हैं। इसके लिए हमें बैन एजेंट से मदद लेने की जरूरत नहीं है।
  • ATM के आविष्कारक का नाम जॉन शेफर्ड-बैरन (John Shepherd-Barron) है।
  • जॉन शेफर्ड-बैरन का जन्म भारत में हुआ था और ये भारत के ही निवासी हैं।
  • ATM से हम ऑनलाइन शॉपिंग भी कर सकते हैं, और किसी भी प्रकार के ऑनलाइन पेमेंट भी कर सकते है।
  • जॉन शेफर्ड-बैरन को ATM बनाने का आईडिया नहाते वक्त आया था।
  • सबसे पहली ATM मशीन को 27 जून 1967 में लंदन के बारक्लेज बैंक ने लगाई थी।
  • भारत में पहला एटीएम मशीन को हॉन्गकॉन्ग एंड शंघाई बैंकिंग कॉर्पोरेशन (HSBC) मुंबई में लगाया गया था।
  • पहला ATM मशीन सन् 1987 में लगाया गया था।
  • पूरी दुनिया में लगभग 35 लाख से भी ज्यादा ATM मशीन है जिसमें से 2.5 लाख से भी ज्यादा ATM मशीन का इस्तेमाल भारत में किया जाता है।
  • ATM से कोई भी पैसों की चोरी नहीं कर सकता है क्योंकि हर ATM मशीन में एक GPS सिस्टम लगा होता है जिससे की आसानी से पता लगाया जा सकते है की चोरी किसने की है।
  • सबसे ऊंचा ATM नाथू-ला में स्थित है। यह ATM भारत-चीन के बॉर्डर पर मौजूद है जो की सिर्फ आर्मी के लिए लगाया गया है।
  • दुनिया की सबसे कम एटीएम उपयोग करने वाला देश Antarctica है। यहाँ पर सीर और सिर्फ 2 ATM मशीन है।
  • यह बहुत ही सुरक्षित और सहज साधन होता है। आप कहीं भी रहकर ATM की हेल्प से पैसों की निकासी कर सकते हैं।

FAQ

Atm का आविष्कार किसनें किया था?

एटीएम का आविष्कार कब और किसने किया – atm का आविष्कार ल श्रेय लूथर जॉर्ज सिमियन को जाता है क्योंकि पूर्ण रूप से स्वचालित एटीएम का आविष्कार इन्होंने ही किया था।

एटीएम का पूरा नाम क्या है?

atm card full form – एटीएम का पूरा नाम Automated Teller Machine होता है।

आज आपने क्या सीखा –

अब के समय में ATM का प्रचलन बहुत तेज बढ़ चुका है। 80% लोग एटीएम का इस्तेमाल करते हैं बाकी के 20% लोग ज्यादातर जो किसी पिछड़े गाँव कस्बों के रहने वाले होते है जिन्हें बैंकिंग ATM का पता नहीं होता है या उन्हें कभी कभी 6 महीने या 1 साल में 4 से 10 बार पैसे निकलवाने होते हैं तो वो लोग बैंक का ही इस्तेमाल कर लेते हैं। और पैसे निकाल लेते हैं ATM की जरूरत ही नहीं होती है उन्हें।

मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की हम आपको कम शब्दों में अच्छा से अच्छा आर्टिकल प्रदान कर सकें जिससे की आपको पढ़ने और समझने में कोई परेशानी ना हो। मैं आशा करता हुँ की आपको आज का यह आर्टिकल (ATM Full Form in Hindi) पसंद आया होगा, आप इस आर्टिकल (ATM Full Form in Hindi) को अपने दोस्तों तथा रिस्तेदारों के साथ जरूर शेयर करना तथा इस पोस्ट से संबंधित कोई सवाल या सुझाव हो तो आप इस पोस्ट की नीचे कमेन्ट भी कर सकते हैं।

धन्यवाद! आपका दिन शुभ हो!

Leave a Comment