BDC Full Form in Hindi – BDC फुल फॉर्म इन हिन्दी

BDC Full Form in Hindi – हैलो नमस्कार दोस्तों आप सभी का आज के एक नए पोस्ट में स्वागत है और आज के इस पोस्ट में हम BDC से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी के बारे में जानने वाले हैं। जैसा की हम सभी लोग आचे से जानते हैं की भारत के बहुत से राज्य ऐसे हैं जहां पर प्रमुख रूप से किसान रूपी लोग होते है और वे राज्य गाँव की तरह होते हैं। और उन गांवों में विकास कार्यों हेतु अलग अलग प्रकार के शिकायतों हेतु निपटारे के लिए ग्राम पंचायत अध्यक्ष अथवा ग्राम प्रधान से अपील करते हैं।

ठीक उसी प्रकार हर जिलों के ब्लॉक स्तर पर एक ब्लॉक प्रमुख होता है जो ग्राम समस्या को सरकार तक पहुंचाता है। जिसके बाद सरकार द्वारा उस बजट को पास किया जाता है और उस गाँव में मोजूद समस्याओं का समाधान किया जाता है।

वैसे दोस्तों आज का यह पोस्ट आप लोग पूरी जरूर पढ़ना क्योंकि इस पोस्ट में हम BDC Ka Full Form, Full Form of BDC, BDC Meaning in Hindi, BDC Kya Hai, बीडीसी फुल फॉर्म इन हिन्दी, What is Full Form BDC, BDC Ka Matlab Kya Hota Hai, कौन से लोग BDC कर सकते हैं इन सभी के बारे में विस्तार से जानने वाले हैं।

BDC क्या है? What is BDC

BDC गाँव स्तर का एक प्रधान रूपी नेता होता है जिसका चयन ग्राम सदस्य मिलकर करते हैं। जैसे गाँव में प्रधान पद हेतु चुनाव होता है और गाँव की जनता किसी एक को भारी मतों से विजयी बनाती है और फिर उसी व्यक्ति को उस गाँव का प्रधान बनाया जाता है।

ठीक उसी प्रकार BDC के भी चुनाव होता है और गाँव की जनता किसी एक उम्मीदवार व्यक्ति को bdc पद का नेता बनाती है और बीडीसी के बहुमत वोटों से ही ब्लॉक प्रमुख का चयन किया जाता है।

BDC Full Form in Hindi

BDC Ka Full Form in HIndi – वैसे तो BDC के कई सारे फुल फॉर्म होते है जो अलग अलग जगहों पर इस्तेमाल किए जाते है लेकिन ज्यादातर bdc शब्द का इस्तेमाल ग्राम चुनाव में किया जाता है। तो चलिए उन सभी BDC फुल फॉर्म इन हिन्दी के बारे में जान लेते हैं।

BDC Full Form Hindi – ‘प्रखण्ड विकास समिति’ अथवा ‘क्षेत्र पंचायत सदस्य’

BDC Full Form in English – ‘Block Development Council’

BDC Full Form in Politics – ‘Block Development Council’

BDC Full Form in Election – ‘Block Develoment Council’

BDC Full Form in Engine – ‘Bottom Dead Centre’

BDC Full Form Sap – ‘Batch Data Communication’

BDC Full Form in Business – ‘Business Development Company’

BDC Full Form in Panchayat in Hindi – ‘क्षेत्र पंचायत सदस्य’

बीडीसी का कार्य क्या होता है?

जब भी ब्लॉक स्तर पर गाँव के विकास कार्य हेतु योजना आती है और सरकार द्वारा ग्राम विकास के लिए फंड दिया जाता है तब bdc अपने गाँव के खड़ंजा, नाली, सड़क कार्य हेतु मिट्टी भराई, नल, गाँव में पानी सिंचाई व्यवस्था कराना इत्यादि जैसे कार्यों को करवाता है।

बीडीसी सदस्य का काम UP

UP के अंदर भी बीडीसी का कार्य यही होता है की UP के गाँव में मोजूद विकास समस्या का काम बीडीसी कराती है जो की निम्नलिखित है –

  • सरकार द्वारा सौंपे गए उनके वार्ड में कार्य कराना।
  • उनके वार्ड के विकास हेतु सरकारी स्कीमों को पास कराना।
  • गाँव के विकास समस्या को देखना और उस समस्या का हल कराना।

बीडीसी सदस्य की वेतन कितनी होती है?

बीडीसी सदस्य के लिए अभी तक सैलरी निर्धारित नहीं की गई है कुछ राज्य ऐसे है जहां पर बीडीसी सदस्यों को मानदेय दी जाती है। परंतु लगभग सभी बीडीसी सदस्य को रु4500 से रु5000 तक की सैलरी दी जाती है।

बीडीसी सदस्य का चुनाव क्या होता है?

बीडीसी सदस्य का चुनाव एक गाँव के वार्ड संख्या के अंतर्गत किया जाता है। इसका मतलब अगर आपका गाँव कई वार्ड (मौजे) से मिलकर बना है तो अलग अलग मौजे में इस प्रक्रिया को की जाती है और अलग अलग वार्ड के उम्मीदवार चुनें जाते हैं।

इस चुनाव में यह निश्चित होता है की उसी वार्ड के व्यक्ति ही अपने वार्ड के उम्मेदवार को वोट कर सकते हैं और इस चुनावी प्रक्रिया में जीतने वाले को BDC माना जाता है।

बीडीसी सदस्य के अधिकार

BDC सदस्य कई अधिकार होते हैं जो की निम्नलिखित हैं –

  1. ग्राम विकास के लिए आये सभी सरकारी स्कीमों को क्रियान्वयन करवाना।
  2. BDC के द्वारा की ग्राम कार्य हेतु अपील करना।

बीडीसी सदस्य बनने के लिए योग्यता

अगर आप अपने ग्राम विकास हेतु बीडीसी करना चाहते है तो इसके लिए कुछ योग्यता होनी जरूरी है।

  • बीडीसी करने लिए सबसे पहले तो आप जिस क्षेत्र से बीडीसी करना चाहते हैं उस क्षेत्र के सदस्य होने चाहिए।
  • अगर आप बीडीसी करना कहते है तो आपकी उम्र कम से कम 21 वर्ष होनी चाहिए।
  • कुछ राज्यों में शैक्षक योग्यता भी निर्धारित कर दी गई है इसीलिए आप कम से कम 5th पास होने चाहिए।
  • इसके अलावा आपके पास आपका पहचान पत्र होना आवश्यक है।

FAQ

बीडीसी सदस्य का अर्थ क्या होता है?

बीडीसी का अर्थ होता है गाँव के विकास समस्या को देखना और उस गाँव के विकास हेतु काम कराना।

बीडीसी सदस्य की वेतन UP 2022 ?

वैसे तो अभी तक बीडीसी सदस्यों के लिए कोई सैलरी निर्धारित नहीं की कई है परंतु UP के अलावा सभी राज्यों में लगभग बराबर वेतन (रु4500 – रु4800) तक बीडीसी प्रत्यासी को दी जाती है।

बीडीसी सदस्य की वेतन बिहार 2022 ?

रु4500 से रु5000 अधिकतम।

What is The Full Form of BDC ?

Block Development Council

Leave a Comment