ट्रेन का आविष्कार किसने और कब किया था?

Train Ka Avishkar Kisne Kiya :- आज से सालों पहले अगर किसी को दूर कही जाना पड़ता था तब वो या तो पैदल जाते है या बैलगाड़ी से जाया करते थे और इस तरह से उन्हे सफर करने में काफी समय लगता था और काफी ज्यादा दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। लेकिन अगर हम बात करे आज के इस डिजिटल जमाने की तो आज के समय में ऐसे बहुत से साधन मौजूद है जिससे हम मात्र कुछ ही घंटों में हजारों किलोमीटर का सफर तय कर सकते है।

आज के समय में लोगों के लिए कही दूर सफर करने के लिए सबसे सुलभ साथ रेलगाड़ी है, रेलगाड़ी से हम कम खर्च में काफी दूर तक बड़ी ही सुविधापूर्वक सफर तय कर सकते हैं। अब ऐसे में आप के मन में कभी ना कभी ये सवाल जरूर आया होगा की आखिर ट्रेन का आविष्कार किसने किया था और कब?। दोस्तों अगर आप इस पोस्ट पर रेलगाड़ी का आविष्कार किसने किया था और कब यह जानने के लिए आये है तब आप निश्चिंत रहें।

क्योंकि आज के इस लेख में हम Train Ka Aavishkar Kisne Kiya Tha, भारत में रेलवे का आविष्कार कब हुआ?, ट्रेन के अविष्कारक कौन है?, बुलेट ट्रेन का आविष्कार किसने किया, भारत में ट्रेन का आविष्कार कब हुआ, ट्रेन की खोज किसने की थी, train ka avishkar kisne kiya tha uska naam bataiye इन सभी जानकारी को हम बड़े ही आसानी शब्दों में जानने वाले हैं आप इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें, तो चलिए शुरू करते हैं।

ट्रेन का आविष्कार किसने किया था?

ट्रेन का आविष्कार सबसे पहले यूनाइटेड किंगडम में रहने वाले एक महान इंजीनियर Richard Trevithick ने 21 फरवरी 1804 में किया था, इन्होंने इस पहले रेल का इंजन भाप इंजन बनाया था और इसी इंजन के द्वारा इसे खींचा गया था, लेकिन इनके द्वारा बनाया गया यह ट्रेन ज्यादा दिन तक चल नहीं पाया लेकिन इनके इस खोज से दूसरी ट्रेन बनाने की प्रेरणा जरूर मिल गई।

इसके कुछ दिन बाद Richard Trevithick के इस खोज से इम्प्रेस होकर ब्रिटिश के एक महान इंजीनियर नें 27 सितंबर 1825 में विश्व की पहली सफल ट्रेन का आविष्कार किया और इस आविष्कारक का नाम George Stephenson था। इनके द्वारा बनाई गई यह ट्रेन 24 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड से अपनी पहली यात्रा 450 यात्रियों के साथ इंग्लैंड के डार्लिंगटन से स्कॉकटन के बीच की गई थी।

ट्रेन का आविष्कार कब हुआ था?

ट्रेन का आविष्कार रिचर्ड के द्वारा सन 1804 में की हो गया था लेकिन यह ट्रेन ज्यादा अच्छे से चल नहीं पाई और फिर इसके कुछ दिनों बाद 27 सितंबर 1825 में ब्रिटिश के एक इंजीनियर ने जिनका नाम George Stephenson था इन्हें एक सफल ट्रेन का आविष्कार किया।

नीचे इसे भी पढ़ें –

Leave a Comment